Kamar Dard Ka Rohani Ilaj

Kamar Dard Ka Rohani Ilaj

Kamar Dard Ka Rohani Ilaj , ” toadays most of ladies are suffer from kamar dard  joron ka dard uric acid laikn is ki wajah kiya hy kamar dard  joron ka dard uric acid aksar 25 years sy oper he mard wa khawateen ko hota hy is ki bunyadi wajah yeh k jab stomach ki ratoobat had sy zayada khuski paida kar k asab aur pathoon ko khusk kar daitee hain jis ki wajah sy pathoon mian akraoo aur sojan aa jati hy aur dard start ho jata hy aksar dilervery k bad kamar dard  joron ka dard uric acid ki cause blood ki kami.naqas khorak aur munasib look after na hona hy yahan main jo nuskha bataby ja raha hoon woh kamar dard ko to thek kary ga is k sath sath stomac aur uric acid ko b thek kary ga

Agar kisi ki kamar mein dard ho to pancho Namazein pabandi se ada kare or Zohar ki Namaz ke baad 141 martaba Ya Allahu Ya Hakeemu parhein, Insha Allah dard jata rage ga.

बरगद के पेड़ का औषधीय और धार्मिक दोनों ही महत्व हैं। बरगद के पेड़ के कभी भी नष्ट न होने के कारण इसे अक्षय वट भी कहा जाता है। यह भारत का राष्ट्रीय वृक्ष है। इसका वानस्पतिक नाम फाइकस बेंघालेंसिस है। इसे तमाम औषधियों में उपयोग किया जाता है। इसके अलावा इसके पत्तों से निकलने वाले दूध को भी उपचार में प्रयोग किया जाता है। आज हम आपको इसके कुछ औषधीय गुणों के बारे में बताते हैं।

चोट लगने पर
बरगद का दूध चोट, मोच और सूजन पर दिन में दो से तीन बार लगाने और मालिश करने से काफी आराम मिलता है। यदि कोई खुली चोट है तो बरगद के पेड़ के दूध में आप हल्दी मिलाकर चोट वाली जगह बांध लें। घाव जल्द भर जाएगा।

कमर दर्द
कमर दर्द में सिकाई करने के बाद बरगद के दूध की मालिश करने से कुछ ही दिन में आराम मिलने लगता है। ऐसा दिन में कम से कम तीन बार करना होता है। इसके अलावा बरगद का दूध अलसी के तेल में मिलाकर मालिश करने से भी कमर दर्द से छुटकरा मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *